Health Insurance : insurance plans कभी कवर नहीं होती यह health संबंधित चीजें

Rate this post

Health Insurance : health insurance (insurance plan) में कई प्रकार के insurance plans आते हैं अलग-अलग रेंज के अनुसार health प्रॉब्लम होने पर अलग-अलग कवरेज प्रदान किया जाता है

मौजूदा समय में health Insurance का महत्त्व

आज के समय में अगर कोई व्यक्ति बीमार पड़ जाता है तो उसे अपना इलाज करवाते समय ज्यादा पैसे खर्च करना पड़ता है लेकिन यहीं पर अगर कोई व्यक्ति health insurance ले लेता है तो उसका खर्चा काफी हद तक बच जाता है दरअसल बहुत सारी ऐसी पॉलिसी देने वाली कंपनियां मौजूद हैं जो अलग-अलग रेंज के अनुसार अलग-अलग का insurance plans प्रदान करती हैं जिनमें कुछ ऐसी भी पॉलिसी शामिल होती हैं जो एक विशेष चीज के लिए ही निर्धारित होती है

health-insurance.webp

यहीं पर कुछ ऐसी इंश्योरेंस प्रदान करने वाली कंपनी भी मौजूद है जो health insurance (medical insurance) के लिए कई सारे insurance plans प्रदान करती हैं ऐसे में यदि कोई व्यक्ति health insurance की पॉलिसी को खरीद लेता है तो उसका काफी हद तक खर्च बच जाता है क्योंकि जब कोई व्यक्ति बीमार पड़ जाता है और अपना इलाज करवाने किसी भी सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में जाता है तो वहां पर लगने वाले खर्च का वहन यही इंश्योरेंस प्रदान करने वाली कंपनियां करती है

लेकिन बहुत सारे ऐसे पॉलिसी धारक भी हैं जो लोग health insurance की पॉलिसी खरीद तो लेते हैं लेकिन जब वह इलाज करवाने जाते हैं तो वहां पर यह पता चलता है कि कुछ ऐसी चीजें भी हैं जो health insurance में insured नहीं की जाती हैं इसलिए जब भी आप health insurance की पॉलिसी खरीदते हैं तो आपको इस बात पर विशेष ध्यान देना चाहिए और यह चीज जान लेना चाहिए कि वह कौन-कौन सी ऐसी चीजें हैं जो health insurance में कवर नहीं की जाती हैं और medical coverage नहीं मिलता है

low insurance plans | कम प्रीमियम वाली health Insurance पॉलिसी में मिलते हैं कम फायदे

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बहुत सारे ऐसे ग्राहक होते हैं जो लोग कम प्रीमियम वाली पॉलिसी insurance plans खरीदते हैं जिनसे उन्हें कम प्रीमियम भरना पड़ता है लेकिन कम प्रीमियम वाली पॉलिसी में कम कवरेज भी प्रदान किया जाता है यहीं पर यदि कोई व्यक्ति ज्यादा प्रीमियम वाली पॉलिसी लेता है तो उसे ज्यादा कवरेज देखने को मिलता है और ऐसे plans health insurance में काफी ज्यादा मदद करते हैं

इसे भी पढ़ें : term insurance जानिए क्यों जरूरी है और किसे लेना चाहिए

health insurance (medical insurance)की पॉलिसी में कुछ ऐसी भी पॉलिसी insurance plans मौजूद है जिनमें आपके health care को पूरी तरह से कवर नहीं किया जाता है और जब आप इलाज करवाने जाते हैं तब वहां पर पता चलता है कि इस पॉलिसी में इस बीमारी को कवर नहीं किया जा सकता है इसलिए जब भी आप कोई भी health insurance (medical insurance) पॉलिसी खरीदते हैं तो ज्यादा से ज्यादा प्रीमियम वाली पॉलिसी लेने के बारे में सोचें और पॉलिसी लेने से पहले यह जरूर देख लें कि health insurance claim के अंदर कौन-कौन सी चीजें कवर की जाती हैं

हमारे देश में कई सारी ऐसी पॉलिसी देने वाली कंपनी मौजूद है जो अलग-अलग रेंज के अनुसार अलग-अलग कवरेज प्रदान करती हैं लेकिन हर व्यक्ति यही चाहता है कि यदि वह कोई health insurance की पॉलिसी खरीदा है तो उस insurance के द्वारा ज्यादा से ज्यादा कवर प्राप्त कर सके और भविष्य में यदि वह किसी भी बीमारी से ग्रसित होता है तो वह पॉलिसी उसके काम आ सके लेकिन जब भी आप पॉलिसी खरीदते हैं तो इस बात पर विशेष ध्यान दें कि वह पॉलिसी कौन-कौन सी जगह पर एक्सेप्ट की जाती है क्योंकि कुछ इंश्योरेंस पॉलिसी सिर्फ प्राइवेट अस्पतालों में ही काम करती हैं

हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करें

health insurance (insurance plans) पॉलिसी खरीदते समय इन बातों का रखें विशेष ध्यान

कई सारी व्यक्ति ऐसे भी होते हैं जो यह सोचते हैं कि अगर उन्होंने health insurance की पॉलिसी को खरीद लिया है तो उस पॉलिसी में सभी चीजों को कवर किया जाएगा लेकिन कुछ ऐसी भी चीजें होती हैं जो आपकी health insurance की पॉलिसी में health insurance claim कवर नहीं की जाती है इसलिए जब भी आप health insurance की पॉलिसी खरीदते हैं तो आपको इस बात पर विशेष गौर कर लेना चाहिए और जब आप पूरी तरह से सुनिश्चित हो जाएं तभी health insurance की पॉलिसी को खरीदें

  • यदि कोई व्यक्ति health insurance की पॉलिसी को खरीदता है और किसी व्यक्तिगत लड़ाई के कारण उसे चोट लग जाती है तो उसे health insurance claim में कवर नहीं किया जाता है
  • यदि कोई व्यक्ति जानबूझकर health insurance claim पाने के लिए खुद को चोट पहुंचाता है तो उसे पॉलिसी में कवर नहीं किया जाता है
  • इंश्योरेंस पॉलिसी सिर्फ भारत में निवास करने वाले लोगों का ही क्लेम पास करती है भारत के बाहर किसी भी प्रकार का इंश्योरेंस क्लेम नहीं मिलता है
  • यदि कोई व्यक्ति किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित है तो उसे क्लेम दिया जाता है लेकिन कॉस्मेटिक सर्जरी जैसी चीजों के लिए किसी भी प्रकार का क्लेम नहीं मिलता है
  • यदि आपको किसी भी प्रकार के दांतों की बीमारी होती है तो दांतों का इलाज इंश्योरेंस पॉलिसी में cover नहीं किया जाता है हालांकि अगर गंभीर बीमारी की वजह से या चोट की वजह से आपके दांतों को क्षति पहुंचती है तो उसे इंश्योरेंस पॉलिसी में कवर किया जाता है
  • आंख का चश्मा नकली दांत नकली हाथ और नकली पैर के लिए इंश्योरेंस पॉलिसी कभी भी क्लेम नहीं पास करती है

यदि आप पहली बार health insurance पॉलिसी लेने जा रहे हैं तो इन पॉइंट को हमेशा याद रखें ताकि पॉलिसी लेने के बाद आपको किसी भी प्रकार की समस्या ना हो और आप इस बात इसे अच्छी तरह से वाकिफ हो सके कि वह कौन-कौन सी चीजें हैं जो इंश्योरेंस पॉलिसी में कवर नहीं की जाती है और किन पर क्लेम किया जा सकता है

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Stay Connected

3,691फॉलोवरफॉलो करें
0सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें
- Advertisement -

Latest Articles