Voter ID Card Aadhar Linking Update: सरकार का नोटिफिकेशन, वोटर आईडी को आधार कार्ड से लिंक करवाना हुआ अनिवार्य

Rate this post

Voter ID Card Aadhar Linking Update: सरकार के द्वारा जारी किए गए नोटिफिकेशन के अनुसार वोटर आईडी को आधार कार्ड से लिंक करवाना अनिवार्य है

Voter ID Card-Aadhar Linking– आधार लिंकिंग को लेकर सरकार के द्वारा हाल ही में कई सारे नोटिफिकेशन जारी किए गए जिसके अनुसार पैन कार्ड (Pan Card) को आधार कार्ड (Aadhaar) के द्वारा लिंक करवाना अनिवार्य बताया गया साथ ही साथ ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) को भी आधार कार्ड से लिंक करवाने का नोटिफिकेशन जारी किया गया लेकिन इस बार सरकार ने वोटर लिस्ट (Voter ID) को आधार कार्ड से लिंक करने के बारे में नोटिफिकेशन जारी किया है जिसके कारण जो व्यक्ति एक से अधिक वोटर आईडी का उपयोग करते हैं उनकी पहचान की जा सकेगी

Voter-ID-Card-Aadhar-Linking-Update.webp

बता दें कि जिस तरह से देश में सभी व्यक्ति के पास एक आधार कार्ड एक पैन कार्ड और एक ही ड्राइविंग लाइसेंस का नियम शुरू किया गया है उसी तरह से प्रति व्यक्ति के पास सिर्फ एक वोटर आईडी ही होना चाहिए इस नोटिफिकेशन के बाद जो लोग फर्जी वोटर आईडी का उपयोग करते हैं इसे रोकने में सहायता मिलेगी, कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर ट्वीट करते हुए इस बात की जानकारी दी है

kiren-rijiju-tweet-screenshot-voter-id-linking-aadhaar-card.webp

Follow US: Google News

मल्टीपल वोटर आईडी कार्ड (Voter ID) के इस्तेमाल पर लगाई जाएगी रोक

सरकार के द्वारा जारी किए गए इस फैसले के बाद मल्टीपल वोटर आईडी कार्ड के उपयोग पर रोक लगेगी और फर्जी वोट डालने वाले लोगों को पहचानने में मदद मिलेगी, कानून मंत्री ने एक चार्ट भी शेयर किया इस चार्ट के अनुसार (Electoral Roll Data) के (Aadhar Ecosystem) को एक ही साथ लिंक करने के कारण एक ही व्यक्ति के द्वारा अलग-अलग स्थान पर Multiple Voter ID बनवाने की प्रक्रिया में रोक लगेगी जिससे कि फर्जी वोटिंग को रोका जा सकेगा कानून मंत्री ने यह भी बताया है कि चुनावी प्रक्रिया में सुधार के लिए सरकार के द्वारा उठाया गया यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम है

अधिकांश लोग अलग-अलग स्थान पर रहने के कारण अलग-अलग वोटर आईडी बनवा लेते हैं और इसी वोटर आईडी का उपयोग करके वह अलग-अलग स्थान से कई बार वोट डाल देते हैं जिससे कि चुनावी प्रक्रिया में फर्जी वोट जमा हो जाता है लेकिन सरकार के द्वारा लिए गए इस फैसले के बाद मल्टीपल वोटर आईडी बनवाने वालों पर रोक लगेगी और इससे वोटिंग प्रक्रिया में भी सुधार होगा

30 जून के बाद देनी होगी डबल पेनाल्टी

सरकार के द्वारा जारी किए गए Aadhar-PAN Linking के नोटिफिकेशन पर ध्यान ना देने वाले लोगों को पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक ना करने की स्थिति में 1 अप्रैल 2022 से पेनाल्टी देने की प्रक्रिया लागू हो चुकी है जिसके अनुसार कई लोग पेनाल्टी भर रहे हैं लेकिन 30 जून 2022 के बाद यह पेनल्टी हो जाएगी, दरअसल मौजूदा समय में पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक ना करवाने की स्थिति में ₹500 का जुर्माना लागू किया गया है लेकिन यदि कोई व्यक्ति 30 जून 2022 के पहले अपने पैन कार्ड को आधार कार्ड के द्वारा लिंक नहीं करता है तो उसे डबल पेनाल्टी यानी कि ₹1000 की पेनाल्टी भरनी पड़ेगी

जिन लोगों ने अभी तक आपने पैन कार्ड को अपने आधार कार्ड के द्वारा लिंक नहीं किया है उन लोगों के लिए यह बहुत ही जरूरी है कि वह लोग 30 जून 2022 से पहले अपने पैन कार्ड को आधार कार्ड के द्वारा लिंक करवा लें अन्यथा उन्हें डबल जुर्माना देना पड़ सकता है साथ ही साथ जिन लोगों ने अभी तक अपने वोटर आईडी को अपने आधार कार्ड के द्वारा लिंक (Voter ID Card Aadhar Linking) नहीं करवाया है उन्हें भी अपने वोटर आईडी को आधार कार्ड के द्वारा लिंक करवा लेना चाहिए

इसे भी पढ़ें: आधार लिंक मोबाइल नंबर हो गया बंद तो घबराएं नहीं यहां करें आवेदन घर बैठे होगा काम

Related Articles

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Stay Connected

3,682फॉलोवरफॉलो करें
0सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें
- Advertisement -

Latest Articles